लाल किला, ताजमहल व कुतुबमीनार देखना पड़ेगा महंगा, कितना लगेगा शुल्क जानिए….

भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआइ) के प्रमुख स्मारकों में घूमने जाना महंगा हो गया है। भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआइ) के प्रमुख स्मारकों में घूमने जाना महंगा हो गया है। एएसआइ द्वारा जारी अधिसूचना के तहत आठ अगस्त से टिकटों के नए रेट प्रभावी हो गए हैं। भारतीय पर्यटकों के लिए लाल किला के टिकट में 15 रुपये का इजाफा किया गया है। जो लोग कैशलेस टिकट लेंगे उन्हें छूट दी जाएगी। 

लाल किला का टिकट नकद में 50 रुपये का :

लाल किला में देश के पर्यटकों के लिए अभी तक 35 रुपये का टिकट है। यदि आप कैशलेस टिकट लेंगे तो आपको 35 रुपये में टिकट मिलेगा। यदि आप नकद देकर टिकट लेंगे तो 50 रुपये देने होंगे। विदेशी पर्यटकों के लिए यह टिकट 550 रुपये का है। यदि वे नकद देकर टिकट लेंगे तो उन्हें 50 रुपये अधिक देने होंगे। उन्हें यह टिकट 600 रुपये का मिलेगा।

ताजमहल, कुतुबमीनार व हुमायूं का मकबरा देखने का किराया 35 रुपये

देश के लोगों के लिए दिल्ली का हुमायूं का मकबरा व कुतुबमीनार तथा आगरा का ताजमहल, आगरा का किला, फतेहपुरी सीकरी स्मारक का टिकट कैशलेस में 35 रुपये में मिलेगा। नकदी में टिकट लेने पर 40 रुपये देने होंगे। इसी तरह विदेशियों के लिए कैशलेस में 550 रुपये और नकद में 600 रुपये हो जाएगा।

अन्य स्मारकों को देखने का शुल्क 20 से 25 रुपये

दिल्ली के सफदरजंग का मकबरा, कोटला फिरोजशाह, तुगलकाबाद का किला, पुराना किला, खान-ए-खाना का मकबरा, जंतर-मंतर के अलावा आगरा का मेहताब बाग, इत्माद-उद-दौला का मकबरा व सिकंदरा स्थित अकबर के मकबरा का टिकट कैशलेस में 20 रुपये और नकदी में 25 रुपये का मिलेगा। जबकि विदेशी नागरिकों के लिए कैशलेस में 250 रुपये जबकि नकदी में 300 रुपये का मिलेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *